हम बहुत लोगों को जानते हैं। बहुत लोगों के साथ जुड़े हुए हैं, लेकिन बहुत सारे लोगों के साथ दिल से नहीं जुड़े हुए। यानी जुड़ाव तो है, लेकिन उसमें भावनाओं की भारी कमी है। जबकि रिश्तों में भावनाएं होने से उसकी सुंदरता और भी ज्यादा बढ़ जाती है।
भावनाओं को जोड़ने के लिए इन बातों का रखिए ध्यान-
-स्मार्टफोन, टैब या टीवी या किसी भी ऐसी चीज़ से दूर रहिए जिससे आपका ध्यान भटक सकता है। इन सब चीज़ों को खुद से दूर रखकर अकेले बैठिए। शांत रहिए और खुद के अंदर झांक कर देखिए। मेडिटेट करिए। जैसे विचार आपके दिमाग में रहे हैं, उन्हें पहचानिए। अपने दिमाग को जानने की कोशिश करिए। एक विचार से दूसरे विचार तक जाएं और देखिए कि ऐसा करना कितना रोमांचक होगा।

-जिंदगी में रोमांच बढ़ाने के लिए जिज्ञासा बहुत फायदेमंद है। जिज्ञासा को बढ़ाने की प्रक्रिया को प्रैक्टिस करिए। ज्यादा से ज्यादा चीज़ों को एक्सप्लोर करते जाएं और खूब ट्रेवलिंग करिए। एजुकेट हों। किताबें पढ़िए। जिन विषयों में आपकी रुचि है, उनके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानिए।

-जब भी लगे कि आप दूसरों की शिकायत कर रहे हैं या किसी बात को लेकर बहुत प्रभावित हैं तो परेशान होने की जरूर नहीं है। इन विचारों को दिमाग से बाहर करके अच्छी चीज़ों के लिए ग्रेटफुल रहना सीखिए।

– बहुत बार हमे चीज़ों की जरूरत महसूस होने लगती है। जब भी लगे कि आपको चीज़ों की जरूरत है तो कुछ लेने की बजाय देने की आदत डालिए। दूसरों को देने से अजीब अहसास मिलने लगता है।

-जब कभी लगे कि कोई दूसरा व्यक्ति आपकी मदद के लिए आगे आए तो ऐसी कोई उम्मीद मत रखिए। खुद अपनी मदद करिए। आपसे बेहतर और आपसे ज्यादा कोई भी आपको समझता नहीं है। आप खुद की सबसे ज्यादा मदद कर सकते हैं।
– आपकी जो समस्याएं हैं, उन्हें खुद निपटाने की कोशिश करिए, क्योंकि आप ही में वो ताकत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *