वेडिंग प्लानिंग कैसे करें How-to-Plan-an-Indian-Wedding

0
wedding planning timeline, Pre-wedding tasks to day of planning. Let us help you with our Indian wedding planning checklist
ultimate-indian-wedding-accessories

विवाह स्पेशल

यादगार वेडिंग की एडवांस प्लॉनिंग
विवाह की रस्म ऐसी परंपरा है जो जीवन भर का बंधन होती है। कहीं कुछ चूक न हो जाएं या कोई कमी न रह जाए इसके लिए शादी की पूरी प्लॉनिंग पहले कर लेना ठीक रहता है ताकि समय, श्रम और पैसे की बचत हो सके और ये पल हमेशा के लिए यादगार बन सकें….

बजट
वेडिंग प्लॉनिंग का सबसे पहला कदम है बजट। पहले ही तय कर लें कि आप कितना खर्च करने जा रहे हैं। बजट की प्लॉनिंग में हमेशा २५ प्रतिशत तक अतिरिक्त राशि की व्यवस्था करके चलें। परफेक्ट बजट प्लॉनिंग आपकी शादी को भी परफेक्ट बना देगी।
मेहमानों की लिस्ट
मेहमानों की लिस्ट तैयार करने बैठें तो ध्यान रखें कि आपके बजट पर अतिरिक्त भार न पड़े। कभी-कभी औपचारिकता निभाते-निभाते लिस्ट इतनी लंबी हो जाती है कि पूरा बजट गड़बड़ा जाता है। इसलिए इस लिस्ट में अपने खास मित्रों और रिश्तेदारों को ही शामिल करें।
एडवांस इंविटेशन : अगर शादी काफी पहले तय हो गई हो तो निमंत्रण कम से कम चार महीने पहले भेज दें। अगर शादी तुरंत तय हो तो ई मेल का इस्तेमाल करें। कार्ड को स्कैन करा कर ई-मेल में अटैच करके भेज सकते हैं। जिनका ईमेल आईडी ना हो उन्हें कार्ड स्पीड़ पोस्ट से भिजवा सकते हैं।
दूसरे पक्ष से करें बात : कुछ लोग शादी में ज्यादा खर्च और दिखावा पसंद नहीं करते। इसलिए सामने वाले पक्ष से बात कर लें कि वे किस प्रकार की शादी पसंद करेंगे। उनकी सलाह इसके लिए बेहद महत्वपूर्ण है।
केटरर का चयन : केटरर के चयन में उनके बनाएं खाने का सेंपल टेस्ट जरूर करें। अगर किसी रेस्टारेंट या होटल से केटरर बुलाने हों तो पहले वहां डिनर पर जाएं ताकि आपको खाने की वैराइटी और जायके का अदंाज हो जाएगा।
वेडिंग डेट : वेडिंग डेट चुनते समय सभी मेहमानों पर गौर करें। ध्यान रखें कि किसी के जन्मदिन और एनीवर्सरी जैसे मौकों के साथ शादी की तारीख न टकराए। तारीख तय करते वक्त बाहर से आने वाले रिश्तेदारों को ध्यान में रखें। अगर आपको प्लॉनिंग में दिक्कत आ रही हो तो किसी वेडिंग कंसलटेंट की मदद ली जा सकती है।
फ्लोरिस्ट का चयन : फ्लोरिस्ट से मिलते समय अपने बजट का विशेष ख्याल रखें। फूलों का रंग और किस्मों का कलेक्शन देखकर ही निर्णय लें।
विडियो और फोटो शूटिंग : विडियो रिकॉर्डिंग और फोटोग्राफर चुनते समय इस बात का जरुर ध्यान रखें कि वह अपने काम में दक्ष हो क्योंकि अच्छे फोटोग्राफ्स ही विवाह के खुशनुमा पलों को हमेशा याद रख पाने में मददगार होगें।

—————————————————————————————-

इंगेजमेंट रिंग बनवाते समय….
विवाह की रस्म में सगाई की अंगूठी बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। डायमंड रिंग्स बेहद प्रचलन में है। अगूंठी लेते समय रखें कुछ खास बातों का ख्याल।
फोर सी फॉर इंगेजमेंट रिंग
कलर : डायमंड रिंग खरीदनी हो तो उसे जितना ज्यादा हो सके करीब से देखें। जितना करीब से देखेंगे उतना ही वह रंगहीन दिखाई देगा। और जितना अधिक वह रंगहीन होगा उतना ही अधिक महंगा होगा।
क्लेरिटी : किसी भी स्टोन को दस गुना मैग्निफाई करने पर वह पूरी तरह से स्पष्टï दिखाई देगा।
कट : हीरे की कटाई उसे चमक और स्पष्टïता देने के लिए होती है। ध्यान रखें कि कटाई के जरिए हीरे में लगे चीरे को न छिपाया गया हो।
कैरेट : यह हीरे के वास्तविक आकार को बताता है। हर कैरेट का मूल्य हीरे का रंग, कटाई और स्पष्टïता पर निर्भर करता है। छोटा और रंगहीन हीरा अच्छी कटाई और स्पष्टïता वाला हीरा बड़े और अशुद्ध हीरे से महंगी कीमत का हो सकता है।

—————————————————————————————-
वेडिंग ऑफबीट आइडियाज
– शादी के दिन दुल्हन के लिए हैंडटाइड बुके का ऑर्डर दीजिए। इस प्रकार का बुके आजकल प्रचलन में भी है। हैंडटाइड बुके लंबे समय तक ताजा रहते हैं, ये कम महंगे और बनने में भी बेहद आसान होते हैं।
– रिसेप्शन को अलग अंदाज देने के लिए अपनाएं यह तरीका। दुल्हा, दुल्हन के बचपन से लेकर अब तक के विभिन्न फोटो रिसेप्शन हॉल में लगाएं जा सकते हैं। इसके अलावा परिवार के सदस्यों के फोटो भी लगा सकते हैं।
– स्टेज पर ठीक ऊपर फूलों व छोटी चॉकलेट्स से भरे कुछ गुब्बारे लगवा दें, जयमाला के समय इन गुब्बारों से होने वाली फूलों की बारिश उन पलों को खास बनाएगी।
– दुल्हन की सहेलियों और दुल्हें के मित्रों दोनों के लिए गिफ्ट का इंतजाम करें।
– घर के किसी बड़े बुजुर्ग या दुल्हा-दुल्हन के मां-बाप का वेडिंग स्पीच देने का आइडिया भी रोचक होगा। रिश्तेदारों के कुछ खास अनुभव भी इसमें शामिल किए जा सकते हैं।

————————————————————————————
मैरिज काउंटडाउन
पद्रंहवां दिन
एक अच्छी यादगार शादी जो आप आरामदायक तरीके से कर सके। उसके लिए पहला कदम है अपने बजट पर पुन: नजर डालिए क्योंकि हो सकता है कि इसमें आपको कांट-छांट करनी पड़े या फिर और कुछ जोडऩा भी पड़े। शादी के दिन तक के बजट के लिए अपने पारिवारिक सदस्यों के साथ बैठकर विचार विमर्श करें। पहले यह तय करें कि आपको कितने समारोह आयोजित करने हैं। मेहमानों की लिस्ट बनाकर नियंत्रण पत्रों का आर्डर दें। अच्छे और डिजाइनर वैराइटी के सामान अगर चाहते हैं तो किसी ऐसी संस्था की मदद लीजिए जो समय पर सामानों की डिलिवरी करती हो।
चौदहवां दिन
अब मेहमानों की अंतिम लिस्ट बनाइए। घर के किसी सदस्य को मेहमानों को फोन से सूचित करने की जिम्मेदारी दें। शादी की जगह और कैसी लाइटिंग हो, यह भी तय कर लें। केटरर, फूलों की सजावट, कार, घोड़ी, बैंड, वीडियोग्राफर, फोटोग्राफर आदि की बुकिंग भी कर लें।
तेरहवां दिन
निमंत्रण पत्रों पर पते लिख लें। दूर रहने वाले रिश्तेदारों को कार्ड पोस्ट कर दे। चाहे तो जिम्मेदारी अपने किसी भरोसेमंद, युवा रिश्तेदार को दे सकते हैं। स्थानीय रिश्तेदारों को खुद जाकर आमंत्रित करें। अपनी खरीददारी को तीन दिन दें। शापिंग के पहले लिस्ट बना लें और फिर शुरु करें।
बारहवां दिन
शादी के बाद कहीं बाहर जाने के लिए बुकिंग पहले ही करा लें। साथ ही एयर या ट्रेन टिकट के अलावा अगर होटल, रिसोर्ट और वापस आने की बुकिंग भी पहले ही हो जाए तो और भी बेहतर होगा। अपनी वेडिंग ज्वैलरी के साथ-साथ दुल्हन की अंगूठी, मंगलसूत्र, खरीदना न भूलें।
ग्यारहवां दिन
अपने रिश्तेदारों के आगमन की सूचना को फोन से पुख्ता कर लें। केटर्र के साथ शादी की मीनू तय कर लें। लाइटिंग और सजावट भी इसी समय निश्चित कर लें।
दसवां दिन
शहर के बाहर के दोस्त, रिश्तेदारों के लिए अगर आवागमन की सुविधा हो जाए, तो यह बात उनका दिल जीत लेगी। मेहमानों को संभालने और उनकी विदाई की जिम्मेदारी अपने किसी खास मित्र को दे दें। मंडप की सजावट और व्यवस्थाओं को भी अब सुनिश्चित कर लें। ड्राइवर, फोटोग्राफर्स को पुन: याद दिला दें। ब्यूटिशियन, मेंहदी वाली इत्यादि से भी बात कर लें।
नवां दिन
घोडा, कार बैंड वालों को एडवांस भुगतान कर दें। अपनी सभी बुकिंग्स में चैक कर लें कि कहीं कुछ छूटा तो नहीं।
आठवां दिन
जो भी पेय पदार्थ प्रस्तुत करना चाहते हैं तो इसकी व्यवस्था भी पहले से ही कर लें।
सातवां दिन
अब शादी में सिर्फ एक हफ्ता बचा है। तैयारियां तो चलती ही रहेंगी, कुछ मौज-मस्ती न हो तो शादी का मजा अधूरा सा लगता है। शादी के मुख्य हिस्से संगीत की प्लानिंग कर लें। शादी में पहने जाने वाले कपड़ों की फिटिंग चैक कर लें। अगर कहीं कुछ गड़बड़ है तो इसे ठीक करा लें। अब एक हफ्ता ही बचा है, इसलिए परिवार के सदस्यों के साथ एक अच्छा वक्त भी बिताएं, चाहे सुबह के समय या फिर रात के डिनर पर। अगर आप के छोटे-भाई बहिन हैं तो देर रात तक उनसे बतिया भी सकते हैं क्योंकि ऐसे मौके बार-बार नहीं आते।
छठां दिन
शादी की जगह को एक बार पहले देख आएं। स्टेज पर गिफ्टस के लिए अपने किन्हीं खास दो रिश्तेदारों को कह दें और दूसरे दो को अन्य सामानों की जिम्मेदारी दें। इसी वक्त कुछ समय पार्लर के लिए भी निकालें।
पांचवां दिन
घर में मेहमानों के रुकने के लिए व्यवस्थाओं में हाथ बटाएं। कुक को भी सारे जरूरी निर्देश दे दें। अगर अतिरिक्त कुक, बर्तन, गैस, स्टोव, बिस्तर आदि चाहिए तो उनकी व्यवस्था भी पहले कर लें। बैंक से अगर पैसे या जेवर इत्यादि निकालने हो तो आज ही निकाल लें।
चौथा दिन
इस समय एक बार यह चैक कर लें कि आप बजट के अनुसार ही चल रहे हैं या नहीं। अगर कहीं कुछ गड़बड़ है तो इसी वक्त उसे सही करें।
तीसरा दिन
अब एक बार रसोईघर की सुध ले लें। अगर वेडिंग केक भी चाहते हैं तो उसका व मिठाई इत्यादि का भी आर्डर दे दें।
दूसरा दिन
मालाओं का आर्डर आज ही दे दें। अब कुछ वक्त अपने लिए निकालें। एक आनंददायक स्नान करें और यह सोच कर आराम महसूस करें कि हर चीज नियंत्रण में है। अपना मेक-अप करें और हर चीज को कुशलतापूर्वक करने के लिए स्वयं को बधाई भी दें।
शादी का दिन
आज कुछ नहीं करना है, एक प्यारी सी मुस्कान अपने चेहरे पर रखिए और शादी का आनंद उठाइए।

हॉट टे्रंड्स
– डायमंड या राइनस्टोन हेयर एस्सेरीज : डायमंड ब्रेसलेट या इयररिंग्स को बालों में पिरोना नया चलन है। इसके लिए बीडेड या राइनस्टोन एस्सेरीज का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
– मैटैलिक एंब्रोइड्री : मैटेलिक एंब्रोइड्री लेटेस्ट टे्रंड में है जिसके साथ कुछ ऑफबीट एस्सेरीज मैच करें।
– टे्रंड्री कलर्स : चॉकलेट ब्राउन या रिच ऑरेंज जैसे रंग सीजन के हॉट कलर्स हैं। चॉकलेट ब्राउन की पेयरिंग में पेस्टल कलर जैसे ब्लू, पिंक का कांबीनेशन ठीक रहेगा। रिच ऑरेंज, रेड या क्रीम के साथ मिक्स मैच करके पहना जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here