– एक्टिव बच्चों में संज्ञानात्मक कौशल का विकास तीव्रता से होता है। निष्क्रिय बच्चों की तुलना में वे अच्छी तरह ध्यान केन्द्रित कर पाते हैं और अपने मस्तिष्क का उपयोग भी अधिक अच्छी तरह कर पाते हैं। इसका फायदा उन्हें निश्चित ही मिलता है।
-जो बच्चा खेलों में भाग लेता है तो उनमें सामाजिक कौशल का बहुत अच्छा विकास होता है। खेलों के दौरान आप अलग-अलग स्वभाव के बच्चों से मिलते हैं, यह बच्चे के सामाजिक कौशल के विकास में सहायक होता है।
– खेल हमें टीम वर्क की भावना सिखाते हैं। यह किसी भी व्यक्ति के लिए एक मूल्यवान गुण है। यह आपकी तब सहायता करता है जब आप बड़े हो जाते हैं और नौकरी करते हैं।
-जब कोई शारीरिक गतिविधि होती है तो मस्तिष्क या हमारे सिर में जो अंग हैं उनका विकास होता है। एक सक्रिय और पूर्ण रूप से विकसित मस्तिष्क जल्दी सीखने और बढ़ने में निश्चित रूप से सहायक होता है।
-जब आप खेलों में भाग लेते हैं तो आपकी इम्यूनिटी बढ़ती है। साथ ही खेल या अन्य शारीरिक गतिविधियों से मांसपेशियों का विकास होता है। स्वस्थ हड्डियों और मांसपेशियों के अच्छे विकास के लिए खेल और योग सबसे सहायक हैं।

ब च्चों, समर वेकेशन शुरू हो चुके हैं। कुछ बच्चे अपनी फैमिली के साथ तो कुछ अपने फ्रेंड्स के साथ खेल-कूद में व्यस्त हो गए होंगे। ऐसे में अगर आप भी अपनी छुटि्टयों को मजेदार बनाना चाहते हैं तो इस बार कुछ नया ट्राय करें, खासतौर से खेलों में। गर्मियों में धूप से बचकर रहने की वजह से इनडोर गेम्स महत्वपूर्ण हो जाते हैं। लेकिन अच्छी फिटनेस के लिए आउटडोर गेम्स और एडवेंचरस एक्टिविटी जरूरी है। यह आपको न सिर्फ फिट रखेंगे, बल्कि मेंटल पीस भी देंगे, जिसका फायदा बाद में स्टडी में भी निश्चित मिलेगा। तो जानते हैं कुछ ऐसे आउटडोर एडवेंचर गेम्स, जिन्हें आप न सिर्फ इंजॉय करेंगे, बल्कि खुद को हेल्दी रखते हुए भविष्य में इनका फायदा उठा सकेंगे।
रॉक क्लाइंबिंग
यह एक बेहद ही मजेदर खेल है, जिससे बच्चों का दिमागी और शारीरिक विकास होता है। लेकिन इस दौरान अगर पेरेंट्स या कोई ट्रेनर साथ हो तो ज्यादा बेहतर है। इसके लिए लगभग हर बड़े शहर में कोचिंग व अन्य संस्थाएं हैं जो समय-समय पर बच्चों को इसकी ट्रेनिंग देती हैं।
नदी पार
यह एक फन गतिविधि है, जिसे आप पसंद करेंगे। रस्सी को नदी के दोनों ओर बांध दिया जाता है और फिर उसे पकड़कर नदी को पार करना होता है।
ट्रैकिंग
यदि आप चाहें तो अपने पेरेंट्स की इजाजत लेकर आधे दिन या फिर पूरी रात के लिए ट्रैकिंग कैंप पर भी जा सकते हैं। ट्रैकिंग से बच्चों को प्रकृति के बारे में भी सीखने को मिलता है।
रैपलिंग
इस स्पोर्ट्स में रस्सी को किसी ऊंची चीज से बांध दिया जाता है और उसे पकड़कर ऊपर चढ़ना होता है। कुछ क्लब इसे इनहाऊस ही करवाते हैं।

समर वेकेशन में एडवेंचर्स को बनाएं अपना साथी

इस तरह करेंगे
यह आपकी मदद

बंजी जम्पिंग
यह बहुत ही साहसिक खेल माना जाता है, जो खासतौर पर छोटे बच्चों को करना बेहद अच्छा लग सकता है। इसे आप भी यदि चाहें तो अपने घर में भी इसे ट्रैम्पोलाइन पर कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *