Diet Plan, Fitness Tips, Workout Routine in Hindi:

दैनिक जीवन कैसे व्यवस्थित करें |

अगर आप ऑफिस में अपना काम समय पर नहीं निपटा पा रहे हैं तो समझइए की आप अपनी जिम्मेदारियों से दूर भाग रहे हैं। और यह आपके आलसीपन को दर्शाता है। लेकिन अगर आप अपने काम में इतना खो जाते हैं कि आपको अपने स्वास्थ्य की भी चिन्ता नहीं रहती तो यह आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है और बीमार भी पड़ सकते हैं। जिस प्रकार ऑफिस का काम करना आपकी जिम्मेदारी है उसी प्रकार स्वास्थ्य प्रति सजक रहना आपका नैतिक धर्म है। यह कहा जाता है कि स्वास्थ्य एवं काम दोनों एक-दूसरे के काफी नजदीक हैं। अगर आपका स्वास्थ्य ठीक होगा तो आप काम भी उतना ही जल्दी करेंगे। ध्यान देने योग्य बात यह भी है कि अपने काम के प्रति हमेशा सजक रहना चाहिए । काम को फूरती से करना चाहिए । साथ ही काम को उसकी अहमियत के हिसाब से करना चाहिए। ऑफिस में काम करते समय आप निम्न बातों का ध्यान रखेंगेतो आपके काम का दवाब कम हो जाएगा:-

समय सीमा निर्धारित करें-
कामों को पूरा करने का एक समय निर्धारित किया जाना चाहिए, क्योंकि आपके पास समय बहुत कम होता है और काम अधिक होते हैं। ऐसे में समय को बचाना आपके लिए लाभदायक होगा। समय की उपयोगिता को समझना होगा। साथ ही आपको यह भी तय कर लेना चाहिए कि अमुक काम को आप पूरा करने में कितना समय लेंगे। उसी हिसाब से समय निर्धारित करना चाहिए। काम को सही समय पर पूरा करना अपनी आदत में शामिल करें। ऐसा करने से काम जल्दी एवं बहुत आसानी से हो जाएगा । आपको कोई पेरशानी का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

महत्वपूर्ण काम पहले:-
प्रतिदिन आपको काम की सूची बनानी चाहिए। सूची के आधार पर ही काम करना चाहिए, जिससे भूल की सम्भावना बहुत कम होगी। जब आप सुबह दफ्तर पहुंचे तो पहले सूची के आधार पर यह तय करे कि कौनसा काम जरूरी है, जिसे हमें पहले एवं जल्दी करना चाहिए। काम तय आपको अपने विवेक के आधार पर करना होगा। जो काम महत्वपूर्ण हो उसे पहले अंजाम दें बाकी समय दूसरे कामों के साथ बिताएं।

दफ्तर में लंच के लिए समय निकाले:-
आपके पास समय बहुत कम होता है और काम अधिक ऐसे में आधे घंटे लिए फ्री दिमाग से घुमना भी तनाव मु€ित के लिए आवश्यक। ऐसे में समय निकालना आपके हाथ में होता है। इस समय का उपयोग लंच या घुमने के रूप में कर सकते हैं। इससे दिमाग थोड़ी देर के लिए आराम मिलेगा। काम में चुस्ती आएगी। गलती की संभावनाएं कम हो जाएगी।

अवकाश भी जरूरी:-
अपने कार्यों एवं समय को देखते हुए ऐसी योजना बनाएं कि हप्ताह में एक बार अपने किसी रिश्तेदार से मिलें। उनके साथ एंज्वाय करें। अगर रिश्तेदारों के यहां नहीं जा सके तो परिवार के साथ ही समय बिताना चाहिए। इससे आपका दिमाग फ्री मूड में रहेगा। अवकाश के दिन आप एक-दो घण्टे आराम भी कर सकते हैं। अगर आप ऐसा नहीं कर सकते तो कोई हेल्थ €लब या योग केंद्र में जा सकते हैं।

काम का वजन घर न ले जाएं:-
कोशिश यह करे कि ऑफिस का काम घर न लें जाए। अगर कोई आवश्यक काम भी है तो पहले उसे दफ्तर में निपटाया जाएं। घर को घर ही रहने दें उसे दफ्तर में तबदील न करें। घर पर समय अपने परिवार के साथ बिताएं।

छुट्टिïयां भी लें:-

साल भर में एक-दो बार लंबी छुट्टïी लेनी चाहिए । अपने बोस से छुट्टïी मांगते समय ग्लानि न महसूस करें। इस दौरान पूर्णरूप से न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक विश्राम भी मिलता है। छुट्टिïयां का उपयोग कहीं घुमने के लिए भी कर सकते हैं। घुमने परिवार के साथ भी जाया जा सकता है। उससे अपने आप को तंदरूस्त एवं स्वस्थ्य महसूस करेंगे।

Time Management Tools & Techniques | Effective Scheduling | Manipulate Time | time management tips | How to Plan Your Daily Schedule For Success | How to Plan your Day effectively, how-to-manage-time-planner-for-daily-life, how-to-manage-time-planner-for-daily-life-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *