डिफेन्स सर्विसेस में करियर : कोर्स, प्रक्रिया, फीस, जॉब्स, पूरी जानकारी

0

रक्षा सेवा ऐसा क्षेत्र है, जो युवाओं को एक सम्मानजनक, अनुशासित और प्रतिष्ठापूर्ण करियर की सुनिश्चितता प्रदान करता है। चयनित अधिकारी भारतीय वायुसेना अथवा कॉम्बेट ड्यूटी पर भारतीय नौसेना में सेवा प्रदान कर सकते हैं, प्रशासकीय कार्य कर सकते हैं, चिकित्सा अथवा इंजीनियरिंग सेवाओं में योगदान कर सकते हैं, जज-एडवोकेट जनरल के विभाग (जेएजी ज डिपार्टमेंट), एजुकेशन कॉप्स सहित विभिन्न सहयोगी सेवाओं में रोजगार बना सकते हैं।

रक्षा सेवाओं की पात्रता- रक्षा सेवाओं में करियर बनाने की सबसे बड़ी पात्रता अथवा अनिवार्य शर्त यही है कि प्रत्याशी भारतीय नागरिक हो (भूटान, नेपाल के निवासी, तिब्बती विस्थापित या शेष भारतीय उपमहाद्वीप जो कि स्थायी रूप से भारत में बसने के लिए प्रवास कर आए हैं, वे भी रक्षा सेवाओं के लिए पात्र हैं)। इसके अलावा प्रत्याशी निर्धारित शारीरिक मापदंडों के अनुरूप शारीरिक रूप से फिट होना चाहिए। सामान्यत: अविवाहित युवक-युवतियों को ही रक्षा सेवाओं में शामिल किया जाता है। रक्षा सेवाओं में 19 से 27 वर्ष आयु वाली महिला स्नातकों केलिए वूमेंस स्पेशल एंट्री स्कीम (ऑफिसर) भी है।

प्रवेश योजना -Career Option in Defense services,
एनडीए/ नेवल अकेडमी परीक्षा थलसेना, वायुसेना तथा एनडीए के नेवल विंग के लिए एक कॉमन रिटन एग्जामिनेशन होती है तथा नेवल एकेडमी की 10+2 (एक्जीक्यूटिव ब्रांच) की परीक्षा निम्नलिखित पैटर्न पर आयोजित की जाती है।
रक्षा सेवा ऐसा क्षेत्र है, जो युवाओं को एक सम्मानजनक, अनुशासित और प्रतिष्ठापूर्ण करियर की सुनिश्चितता प्रदान करता है। चयनित अधिकारी भारतीय वायुसेना अथवा कॉम्बेट ड्यूटी पर भारतीय नौसेना में सेवा प्रदान कर सकते हैं।
गणित- ढाई घंटे, 300 अंक
सामान्य योग्यता – ढाई घंटे, 600 अंक
जो प्रत्याशी लिखित परीक्षा में पात्र घोषित किए जाते हैं, उन्हें अधिकारी के सामर्थ्य के लिए बौद्धिक और व्यक्तित्व परीक्षण हेतु सर्विस सिलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) के सामने उपस्थित होना पड़ता है तथा एयर फोर्स में करियर बनाने वालों को पायलट एप्टिट्यूट टेस्ट और ऑफिसर पोटेंशिएलिटी टेस्ट से गुजरना होता है। एनडीए ज्वॉइन करने वालों को कला, विज्ञान और कम्प्यूटर साइंस में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली से संबद्ध स्नातक उपाधि प्रदान की जाती है।
What-career-scope-Defense services ,
एनडीए की तीन वर्षीय पढ़ाई को 6 सेमिस्टर में बाँट दिया गया है। इनमें 5 सेमिस्टर सामान्य किस्म के होते हैं जिन्हें सभी प्रत्याशियों को उत्तीर्ण करना होता है तथा छठे और अंतिम सेमिस्टर में प्रत्येक प्रत्याशी को थलसेना, नौसेना अथवा वायुसेना की विशेष शिक्षा तथा प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। शैक्षिक पाठ्यक्रम में लगभग 57 प्रश कार्यक्रमों में 12 विषय, 8 भाषाएँ, तीन शुद्ध विज्ञान, दो अनुप्रयुक्त विज्ञान तथा चार सामाजिक विज्ञान से संबंधित होते हैं।

इस Career-Planning-Defense-Services – Hindi, में सैन्य इतिहास, क्षेत्र अध्ययन, सेवा लेखन, नेतृत्व, अर्द्धसैनिक बल, हथियार प्रशिक्षण और परिस्थितिजनक निर्देश जैसे कॉमन सर्विस विषय भी शामिल हैं। पाठ्यक्रम के अंश के रूप में युद्ध मैदान में प्रशिक्षण तथा शांतिकालीन कौशल और आर्मी, नेवी अथवा एयर फोर्स की व्यक्तिगत धारा से संबंधित प्रचालन को भी शामिल किया गया है। इसके अंतर्गत प्रशिक्षण भी दिया जाता है जिसमें शारीरिक प्रशिक्षण, ड्रिल और इक्विटेशन शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here