दीवारों में डाल दें नयी जान वाल पेंट – टॉप 10 टिप्स

0

घर को शानदार बनाता है उसका खूबसूरत कंस्ट्रक्शन। वहीं घर की दीवारों को जीवंत करती है उसपर लगाई गई एक्सेसरीज, लेकिन यह निर्भर करता है आपके क्रिएटिव आइडियाज पर। अपनी सुरुचिपूर्ण अभिव्यक्ति से दीवारों को दें मनमोहक रूप, ताकि बोल उठें दीवारें।

दीवारों के अनुरूप लगाएं पेंटिंग्स
एक अच्छी पेंटिंग यदि सही जगह पर लगाई जाए, तो कमरे की सुंदरता में चार चांद लग जाते हैं, वहीं दूसरी ओर पेंटिंग यदि कमरे के रंग फर्नीचर व मूड से मैच न करे, तो सुंदर और कीमती पेंटिंग भी बुरी लगती है। इसलिए पेंटिंग खरीदते समय ध्यान रखें कि उसे आप किस दीवार पर लगाना चाहती हैं। पेंटिंग का साइज भी कमरे के अनुसार बड़ा या छोटा होना चाहिए। छोटी दीवार पर बड़ी पेंटिंग न लगाएं। यदि पेंटिंग के अनुरूप फे्रम भी आर्टिस्टिक हो, तो पेंटिंग की खूबसूरती कई गुना बढ़ जाती है। पेंटिंग यदि बड़ी है, तो इसे बड़ी दीवार पर बीचोंबीच लगाना चाहिए। किसी भी सूनी दीवार को विशिष्टïता देनी हो तो म्यूरल पेंटिग्स लगाएं। पेंटिग्स लगाते समय कमरे का भी ध्यान रखें। डाइनिंग एरिया में खाने-पीने से संबंधित पेंटिग्स लगाएं।
दीवारों पर संजोय यादें
फेमिली फोटो फे्रम लिविंगरूम या बेडरूम में लगाना चाहिए। कई छोटे-बड़े फोटो फे्रम बड़ी दीवार पर एक साथ व्यवस्थित करके भी लगाए जा सकते हैं। इनसे न सिर्फ दीवारों की सुंदरता बढ़ेगी, बल्कि पुरानी यादें भी ताजा रहेंगी।
इंटीरियर के अनुसार हो वॉल क्लॉक
वॉल क्लॉक हर कमरे की जरूरत बन गई है। कमरे की सजावट के अनुसार इसका चुनाव करें। बच्चों के कमरे के लिए विशेष तौर पर बनाई गई आकर्षक वॉल क्लॉक चुन सकती हैं। अगर आपके कमरे का इंटीरियर मॉडर्न या ट्रेडीशनल है तो वॉल क्लॉक का चुनाव उसी रूप में करें। वॉल क्लॉक को ऐसी जगह टांगें, ताकि कमरे के हर कोने दिखे।
कहीं भी लगा सकते हैं कलात्मक मिरर
आज मिरर सिर्फ ड्रेसिंग रूम व बाथरूम तक ही सीमित नहीं रहा। आजकल बाजार में ब्लैकमेटल, ब्रास, रॉकआयरन और वुडफे्रम के कलात्मक मिरर उपलब्ध हैं। इन्हें ड्राइंग रूम तथा छोटे कमरे में लगाएं। इससे कमरा बड़ा दिखता है।
वॉल हैंगिंग और मास्क
हस्तकला के रंग बिरंगे एप्लिक वर्क, राजस्थानी व गुजराती कच्छी कढ़ाई व ग्लास वर्क आदि से सजे वॉल हैंगिंग उपलब्ध हैं। इसके अलावा जूट, मैक्रम, रस्सी व मोती इत्यादि से बने वॉल हैंगिंग भी दीवारों की शान बढ़ा देते हैं साथ ही मास्क से भी दीवारों को सजाया जा सकता है। इसमें भी इंटीरियर के हिसाब से ही मास्क का चुनाव करें।
कुछ महत्वपूर्ण बातें-
– पेंटिंग की सुंदरता बढ़ाने के लिए उसके ऊपर डिजाइनर लाइट लगाएं।
– कई पेंटिंग दीवार एक साथ न लगाएं । इससे कमरा बहुत भरा हुआ लगेगा।
– कमरे की सज्जा के अनुसार ही पेंटिंग का चुनाव करना चाहिए। ट्रेडीशनल स्टाइल से सजे कमरे में मॉडर्न पेंटिंग अच्छी नहीं लगती।
– छोटे कमरे को बड़ा दिखाने के लिए दीवार पर बड़ा शीशा लगाएं।
– बच्चों के कमरे की दीवारों को उनके मनपसंद कार्टून, स्टीकर्स, पोस्टर्स, रंग-बिरंगी पंतग आदि से भी सजाया जा सकता है। दीवारों पर चैस, कैरम, लूडो, चाइनीज चैकर के बोर्ड भी लगा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here