5 टिप्स जो बढ़ाएंगे आपका कंसंट्रेशन-एकाग्रता

0

ये आसान तरीके बढ़ा सकते हैं आपका कान्संट्रेशन

पढ़ते समय केवल पढ़ाई पर कान्संट्रेट करना थोड़ा मुश्किल होता है, खासतौर पर तब, जब सब्जेक्ट पसंदीदा न हो। लेकिन हर विषय पढ़ना भी जरूरी है। तो चलिए, हम बताते हैं कि कैसे थोड़े से डिटर्मिनेशन और पढ़ाई की कुछ तकनीक को अपनाकर आप उन विषयों में भी रुचि बढ़ा सकते हैं जो पसंद नहीं। यह तरीका कान्संट्रेशन बढ़ाने में भी मददगार रहेगा।

पढ़ाई के लिए बैठने से पहले
1 स्टडीज के लिए बेहतर स्टडी एनवायरनमेंट चुनें। शांत एरिया जैसे प्राइवेट रूम या लाइब्रेरी का चुनाव करें, जहां शोर-शराबा न हो और आपका ध्यान न भटके।
2 सब्जेक्ट रिलेटेड स्टडी मटैरियल रेडी कर लें। कुछ खाने और पीने के लिए पानी भी साथ रखें। इससे पढ़ाई के बीच में उठना नहीं पड़ेगा और ध्यान नहीं भटकेगा।
3 ऐसे इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जो आपका ध्यान भटकाते हैं, उन्हें प्राथमिकता से बंद करें। जैसे आपका मोबाइल फोन, म्यूजिक सिस्टम, गेम्स आदि।
4 पढ़ाई के स्थान को साफ रखें। गैर जरूरी चीजें ध्यान खीचेंगी। जो विषय पढ़ना है उससे संबंधित सामान आर्गनाइज्ड करके रखें।
5 पढ़ाई का एक शेड्यूल बनाएं और उसे हर हाल में फॉलो करें। इससे आपकी पड़ने की हैबिट डेवलप होगी और आप स्टडी प्लान को नियमित तौर पर फॉलो कर पाएंगे।
6 अपने एनर्जी लेवल का ध्यान रखें। हार्ड सब्जेक्ट्स को तब पढ़ें जब आपमें ज्यादा एनर्जी रहती है, क्योंकि इस समय आप पढ़ाई पर ज्यादा फोकस कर पाएंगे।
7 स्टडी डिस्कशन से ज्यादा बेहतर हो पाती है। इसके लिए जरूरी है एक स्टडी पार्टनर। इससे पढ़ाई में मोनोटोनी ब्रेक होगी, कॉन्सेप्ट्स सुधरेंगे और मोटीवेट होंगे।
8 जब अपना स्टडी गोल अचीव कर लें, खुद को गिफ्ट दें। ये गिफ्ट खुद के लिए कुछ खरीदने, छोटा ब्रेक लेकर टीवी देखने, फोन पर बात करना हो सकता है।
1 ऐसी स्टडी मैथड का चुनाव करें जो आपको स्टडीज पर कांसन्ट्रेट करने पर मजबूर कर दे। इसके लिए पढ़ाई के तरीकों को एक्सपेरिमेंट और एक्सप्लोर करें। उदाहरण के लिए
वॉकेबलरी या एकेडमिक के लिए नोट कार्ड्स या फ्लैश कार्ड्स बनाएं। इससे आप वर्ड्स, टर्म्स और कॉन्सेप्ट्स ध्यान रख पाएंगे।
कई बार पढ़ाई में स्ट्रक्चर और डायग्राम बनाने की जरुरत होती है। इससे आप अपनी पढ़ाई को ज्यादा विजुअलाइज कर सकते हैं।
फैक्ट्स और डिटेल्स को आउटलाइन करें, इससे आप बड़े कॉन्सेप्ट्स को छोटी डिटेल्स के साथ मैच कर पाएंगे, जो स्टडीज में आपकी मदद करेगा।
जो भी पढ़ें उदाहरण के साथ पढ़ें। इससे आपके कांसेप्ट्स क्लियर होंगे और आपको पढ़ा हुआ याद रखने में भी दिक्कत नहीं होगी।
2 एक घंटे में 5-10 मिनट का ब्रेक लें। इससे आपके माइंड को रिलैक्स का टाइम मिलेगा और आप प्रोडक्टिव रहने के साथ इंफार्मेशन बेहतर तरीके से ग्रहण कर पाएंगे।
3 शार्ट ब्रेक में थोड़ी स्ट्रैचिंग और एक्सरसाज के लिए भी स्पेस दें। जैसे योग, पुशअप्स, फिजिकल एक्टिविटी को भी पढ़ाई के दौरान शामिल करें।
4 एक्टिव लर्नर बनें, यानी पढ़ी बातों को रटने के बजाय लाइफ या आस-पास की चीजों से जोड़कर पढ़ें। इससे चीजें जल्दी याद होंगी वह भी प्रैक्टिकल एप्रोच के साथ।
5 कुछ मेन्टल कान्संट्रेशन स्ट्रेटजी अपनाएं। जैसे ही पढ़ाई के दौरान आपका दिमाग भटके, उसे वैसे ही वापस कहते हुए लाएं कि मुझे अभी दिल-दिमाग से यहीं रहना है।
6 चिंता वाजिब है और सभी को किसी न किसी बात की चिंता रहती है। लेकिन इसके लिए भी समय तय करें। पढ़ाई के दौरान चिंता को खुद से दूर रखें।
7 भले ही जो टॉपिक पढ़ रहे हैं वो आपके इंटरेस्ट का न हो या बोरिंग हो, तो भी अपने लिए लक्ष्य निर्धारित करें। इससे आपको लक्ष्य की तरफ बढ़ने की प्रेरणा मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here