Latest Trends in Gold Jewllery : सोना कितना सोणा है…

0

Latest Trends in Gold Jewllery : सोना कितना सोणा है…

सीजन के दस्तक देते ही ज्वेलरी बाजार में हलचल बढ़ जाती है। ये वो सीजन है जब ज्वेलरी की मांग बाजार में काफ ी ज्यादा होती है।

Latest Trends in Gold Jewllery : सोना कितना सोणा है...आने वाले फेस्टिव सीजन मे सोने के बढ़ते दाम का असर बिक्री पर न पड़े इसलिए ज्वेलर अपने नए कलेक्शन में नयापन लाने की कोशिश कर रहें हैं। डिजाइन से लेकर स्टाइल में लोगों तक कुछ नया पहुंचाने की होड़ है।

बढ़ती मंहगाई के इस दौर में लाईटवेट ज्वेलरी सेगमेंट हमेशा से ग्राहकों की पसंद रहा है। कम वजन के सोने में हल्के डायमंड के फ्यूजन से ज्वेलर इस फेस्टिव सीजन में आपकी खरीद को बजट में रखने की कोशिश कर रहें हैं। 20 हजार रुपए की शुरुआती प्राइसिंग के साथ लाईटवेट ज्वेलरी में कई विकल्प बाजार में देखने को मिलेंगे। ज्वेलर्स को उम्मीद है कि त्योहारों का सीजन बाजारों तक ग्राहकों की रौनक लेकर आएगा। वैसे भी
सोना की कीमतों में आयी उछाल के बावजूद भारतीयों की पीली धातु के प्रति लगाव में कोई कमी नहीं आई है। विश्व स्वर्ण परिषद के एक अध्ययन के अनुसार भारतीयों के पास 18 हजार टन सोना है जो दुनिया का सबसे बडा स्वर्ण भंडार है। साल 2010 में दुनिया में खरीदे गये सोने में से 32 फ ीसदी भारतीयों के पास है1 साल 2010 में भारत में सोना की मांग 25 फ ीसदी बढ़कर 963.1 टन पर पहुंच गई। एक अध्ययन के अनुसार पिछले साल पीली धातु में आयी रिकॉर्ड तेजी का वजह भारतीय मांग भी है। पिछले दशक में सोना की भारतीय मांग में यह बढ़ोतरी बचत और वास्तविक मांग की वजह से हुई है न कि कीमतों की वजह से आई है। सोने की लोकप्रियता जगजाहिर है। भारतीयों की मांग से संयुक्त अरब अमीरात के सोना के बाजार में कारोबार बढ़ा है। एक अनुमान के अनुसार अगले 10 सालों में भारतीयों की संपत्ति में भारी बढ़ोतरी होने की संभावना है। इसके मद्देनजर भारत में सोने की मांग में जबरदस्त तेजी रहने की उम्मीद है।

भारत की 70 % आबादी गांवों में रहती है और देश में कुल खपत सोने में से दो तिहाई के खरीदार वे होते हैं। ग्रामीणों द्वारा सोना में खरीद में पांच फ ीसदी सालाना बढ़ोतरी होने की उम्मीद है जिससे मांग में तेजी बनी रहेगी।

——————————-
शादी विवाह के लिए देश के हर साल करीब 500 टन सोने की बिक्री होती है और स्वर्ण आभूषणों की सालाना मांग में से करीब 50 % बिक्री वैवाहिक सीजन में होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here