जापानी टैक्नोलॉजी

0
technology

जापानी  कार निर्माता कम्पनियों द्वारा इस क्षेत्र में अभूतपूर्व प्रगति की गई है और समय समय पर टैक्नोलॉजिकल एडवांस्मेंट से लैस कारें लॉन्च की गई हैं, जिन्होंने अपार लोकप्रियता हासिल की। इंजन में- ईएन-०५, ईएन ०७ ए, ईएन ०७सी, ईएन ०७ एल, ईएन ०७ ई, ईएन ०७ एस, ईएन ०७ वाय-सुपरचार्जर ईएमपीआई, मायनर चेंज एसपीआई, माइल्ड चेंज ईएमपीआई, आईसी सुपर चार्जर विद ईएमपीआई, डीओएचसी- एवीसीएस, डीओएचसी-विद सुपरचार्जर आदि प्रमुख हैं। निसान ने ट्यूनर कारों में स्ट्रेट सिक्स इंजिन, टर्बोचार्जर, व हाई परफॉर्मेंस  जीटी- आर ट्रिम का इस्तेमाल किया जो आज भी बेहद लोकप्रिय है। इसी प्रकार टोयोटा, निसान, ह्युण्डई आदि ने भी नए प्रयोग कर इंजन की क्षमता व कार्य निष्पादन को बढ़ाने का काम किया। होण्डा ने इन्साइट (हायब्रिड इलेक्ट्रिक व्हीकल) को, टोयोटा प्रायस से प्रतिस्पद्र्धा के रूप में उतारा। होण्डा जो कि विश्व की सबसे बड़ी इंजिन निर्माता कम्पनी है- ऐसी एकमात्र कम्पनी जिसने १९७० यूएस क्लीन एअर एक्ट को पास किया। अन्य कारों के अतिरिक्त होण्डा फॉर्मूला वन कारों के लिए भी विख्यात है। वोल्वो कारों के लिए यामहा मोटर कॉर्पाेरेशन के लिए वी एट ऑटो मोबाइल इंजिन तैयार किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here