आईआईटी परीक्षा -तैयारी कैसे करें How to crack IIT Examination

0

 

सबसे पहले पहली सूची के सरल प्रश्नों को हल करने का प्रयास करें व उसमें एक निर्धारित समय सीमा के भीतर महारत हासिल करें। इसके बाद कठिन व अति कठिन प्रश्नों को भी इसी तरह से हल करने का प्रयास करें। आप धीरे-धीरे अंतिम सूची के प्रश्नों को सॉल्व करने की कोशिश करेंगे, तो आपका कॉन्फिडेंस लेवल काफी बढ जाएगा और स्ट्रॉन्ग और वीक एरिया से भी अच्छी तरह वाकिफ हो जाएंगे। इस समय आप अपनी सुविधा के अनुसार कमजोर पक्ष को अधिक समय दे सकते हैं। एक बात का अवश्य ध्यान रखें कि मैथ्स में यदि कमजोर हैं, तो दोनों विषय में अच्छा स्कोर करने के बावजूद सफलता मिलने में संदेह है। आपके लिए बेहतर होगा कि आप सभी विषयों के लिए एक समय निर्धारित कर लें और उसी के अनुरूप तैयारी को अंतिम रूप दें, तो बेहतर होगा।

फाइनल स्टेज –  बारहवीं के  लिए

सिलेबस के अनुसार रिवीजन करें।

सब्जेक्ट आधारित तैयारी करें।

शारीरिक व मानसिक रूप से फिट रहें।

बारहवीं के स्टूडेंट्स के लिए बेहतर होगा कि वह अपनी बारहवीं की परीक्षा के लिए भी समय दे। अब स्ट्रेटेजी यह होनी चाहिए कि इस बचे हुए समय में सिलेबस की संपूर्ण तैयारी हो जाए। आईआईटी परीक्षा के लिए लगभग 6 महीने शेष हैं।

फाइनल 6 माह की तैयारी

अक्टूबर और नवंबर : इस समय आप सिर्फ ग्यारहवीं और बारहवीं की एनसीईआरटी पुस्तकों को पढें। इसका अधिक से अधिक रीविजन करें और संबंधित प्रश्नों को हल करने का खूब अभ्यास करें। आपकी तैयारी इस लेवल पर पहुंच जानी चाहिए कि आप सभी तरह के प्रश्नों का जवाब देने में सक्षम हों। यदि आपका बेसिक्स मजबूत है, तो आप इसे आसानी से कर सकते हैं।

दिसंबर और जनवरी –
आप दूसरे स्टेज की तैयारी शुरू कर दें। आप आईआईटी के पिछले वर्षो के प्रश्नों को हल करने का अभ्यास करें। अभ्यास के दौरान लगभग एक तिहाई प्रश्न आप आसानी से साल्व कर लेंगे। जो प्रश्न नहीं साल्व कर पा रहे हैं, उसमें एक स्टार लगाएं और जो प्रश्न नहीं समझ पा रहे हैं, उसमें डबल स्टार लगाएं। एक महीने में आप कम से कम दस से पंद्रह वर्षो के प्रश्नों को अवश्य साल्व करें। इसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को अधिक से अधिक साल्व करने की कोशिश करें। इस समय सिर्फ आपका ध्यान अधिक से अधिक नए और पुराने प्रश्नों को हल करने पर होना चाहिए।

फरवरी-
इस समय आप एक स्टार और दो स्टार वाले प्रश्नों को साल्व करने का अभ्यास करेंगे, तो आपकी बेहतर तैयारी हो पाएगी। आपकी कोशिश होनी चाहिए कि आपने जितने भी स्टार लगाए हैं, सभी को अच्छी तरह से साल्व करें। इस समय अधिक से अधिक समय पढाई पर देना चाहिए। कुछ स्टूडेंट्स तो इस समय 16 घंटे तक पढाई करते हैं। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपना बेस्ट किस प्रकार कर सकते हैं। यह समय आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। हमेशा स्वस्थ रहने की कोशिश करें और 6 घंटे की नींद अवश्य लें। मार्च : इस महीने में कुछ भी नया पढने से बचें। सिर्फ टेस्ट दें। आप किसी एक टेस्ट पेपर को लें और निर्धारित समय सीमा के अंदर उसे साल्व करने का अभ्यास करें। जहां भी गलती कर रहे हों, उसे तुरंत सुधारें और यदि कहीं चूक कर रहे हैं, तो अगली बार उससे बचने की कोशिश करें। यदि इस तरह के अभ्यास परीक्षा के एक दिन पहले तक करते हैं, तो कोई कारण नहीं कि आप इस परीक्षा में सफल न हो सकें।

मैथ्स

आईआईटी की परीक्षा में मैथ्स का काफी महत्व होता है। इसमें जो काफी स्ट्रॉन्ग होते हैं, उनका सेलेक्शन औरों की अपेक्षा अधिक होता है। वैसे तो मैथ्स में सभी कुछ महत्वपूर्ण होता है, लेकिन यदि आपको पता हो कि चेप्टर से लगभग कितने प्रश्न पूछे जाएंगे, तो तैयारी आसान हो जाती है। उनके अनुसार कैलकुलस से सर्वाधिक चालीस प्रतिशत प्रश्न पूछे जाते हैं। उसके बाद एलजेब्रा 30, कॉर्डिनेट ज्यामिति से 20 और वेक्टर व थ्री डी ज्यामिति से 5 प्रतिशत प्रश्न आते हैं।

फिजिक्स

प्रत्येक स्टूडेंट्स को बेसिक कॉन्सेप्ट से तैयारी करना चाहिए। पिछले वर्षों के प्रश्नों को देखेंगे, तो तैयारी करने में आसानी हो जाएगी। यदि आप प्रश्नों को देखें, तो फिजिक्स में इलेक्ट्रीसिटी, मैगनेटिज्म, ऑप्टिक्स, मैकेनिक्स से लगभग 70 प्रतिशत प्रश्न पूछे जाते हैं। थर्मोडायनमिक्स और मॉडर्न फिजिक्स से 20 प्रतिशत और जनरल फिजिक्स से 10 प्रतिशत प्रश्न आते हैं।

केमिस्ट्री

जेईई में होने वाले दोनों पेपरों को ऐसा डिजाइन किया जाता है, जिसमें प्रत्येक टॉपिक कवर हो। केमिस्ट्री में ऑर्गेनिक, मैकेनिज्म, केमिकल बॉन्डिंग, नाइट्रोजन और ऑक्सीजन फैमिली, फिजिकल केमिस्ट्री आदि काफी महत्वपूर्ण होते हैं। आप इनकी तैयारी जमकर करें। केमिस्ट्री के विशेषज्ञों का मानना है कि तैयारी बेसिक कांसेप्ट से करनी चाहिए। यदि आर्गेनिक, इनआर्गेनिक एवं फिजिकल केमेस्ट्री के प्रमुख चेप्टरों का जमकर अध्ययन किया जाए तो जेईई में बेहतर परसेंटेज आ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here